देश में कोरोना संक्रमण के मामले 14,000 के करीब, गुजरात 1000 का आंकड़ा पार करने वाला छठा राज्य


नयी दिल्ली। देश भर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 14,000 के करीब पहुंचने के बीच गुजरात शुक्रवार को छठा राज्य बन गया, जहां एक हजार से अधिक मामले पाये गए हैं जबकि केंद्र सरकार ने कहा है कि पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 के मामले दुगुने होने में लगने वाला समय बढ़ा है। केंद्र चीन से गुरूवार को यहां पहुंची करीब पांच लाख त्वरित जांच किट उन राज्यों को बांटने की तैयारी में है, जहां सबसे ज्यादा मामले पाये गए हैं।


वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 24 मार्च को पहला देशव्यापी लॉकडाउन (बंद) लागू होने से पहले कोरोना वायरस के मामले तीन दिन में दुगुने हुए थे, जबकि पिछले एक सप्ताह में इसमें 6 . 2 दिन लगे। मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने पत्रकारों से कहा ,‘‘ लॉकडाउन से पहले कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तीन दिन में दुगुने हो रहे थे। जबकि पिछले सात दिन में यह दर 6 . 2 दिन रही। वहीं, केंद्रशासित प्रदेशों और 19 राज्यों में यह दर राष्ट्रीय औसत से कम है।’’ अहमदाबाद में स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि गुजरात में शुक्रवार को संक्रमण 1021 तक पहुंच गया जबकि 92 नये मामले सामने आये।


वहीं दो और मौतों के साथ मरने वाले लोगों की संख्या 38 पहुंच गई। महाराष्ट्र (3236), दिल्ली (1640), तमिलनाडु (1323), राजस्थान (1193) और मध्यप्रदेश (1164) में मामलों की संख्या 1000 के पार हो चुकी है। अकेले मुंबई में कोरोना वायरस के मामले 2120 पहुंच गए हैं जबकि 77 और व्यक्ति पॉजिटिव पाये गए। बृहनमुंबई नगर निगम के अनुसार मुंबई की धारावी झुग्गियों में कोरोना वायरस के 101 मामले दर्ज किये गए हैं।


देश भर में कोरोना के मामले पिछले 24 घंटे में 1076 बढ गए और 32 जानें गई हैं। अब देश भर में संक्रमितों की संख्या 13835 पहुंच गई जबकि मरने वालों की संख्या 452 पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 1767 मरीज स्वस्थ हो गए हैं। इस बीच, केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्द्धन ने शुक्रवार को कहा कि केरल के श्री चित्रा तिरुनाल आयुर्विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान, त्रिवेंद्रम ने कम कीमत वाली एक एक ऐसी जांच किट विकसित की है, जो महज दो घंटों में कोविड-19 की पुष्टि कर सकती है।


हर्षवर्द्धन ने ट्वीट किया, ‘‘ तिरूवनंतपुरम के संस्थान द्वारा विकसित की गई जांच किट 10 मिनट में कोरोना वायरस संक्रमण का पता लगा सकती है और नमूना लेने से लेकर नतीजे आने तक में दो घंटे से भी कम समय लगेगा। ’’ एक मशीन पर एक ही साथ कुल 30 नमूनों की जांच की जा सकती है। राज्यों से मिले आंकड़ों के आधार पर पीटीआई की तालिका के अनुसार देश भर में कोरोना वायरस के मामले 13789 हैं जबकि 1853 मरीज उबर चुके हैं और मरने वालों की संख्या 457 हो गई है। अग्रवाल ने कहा कि भारत कई दूसरे देशों से बेहतर नियंत्रण कर रहा है। उन्होंने कहा ,‘‘ भारत में संक्रमण से उबरने वालों का प्रतिशत 80 है और 20 प्रतिशत मरने वालों की संख्या है। अनुपात के मामले में भारत दूसरे देशों से बेहतर है।’’ मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार मरने वाले 452 लोगों मेंमहाराष्ट्र में 194, मध्यप्रदेश में 57, गुजरात और दिल्ली में 38 और तेलंगाना में 18 लोगों की जानें गई है।\


तमिलनाडु में 15 जबकि आंध्रप्रदेश और उत्तर प्रदेश में 14 . 14 मौतें हुई हैं। पंजाब और कर्नाटक में 13 . 13, राजस्थान में 11 और पश्चिम बंगाल में 10 मौते हुई हैं। मार्च के आखिर से ही सख्त कर्फ्यू के बावजूद देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में मृत्यु दर सर्वाधिक दर्ज की गई। शुक्रवार की सुबह तक शहर में कोरोना वायरस के 842 मामले थे और अब तक 47 जानें जा चुकी हैं। अधिकारियों ने हालांकि फिर कहा कि शहर में सामुदायिक संक्रमण का खतरा नहीं है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा है कि मोदी सरकार कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिये कोई कसर नहीं छोड़ रही है। इस बीच, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) में महामारी एवं संक्रामक रोग विषय के प्रमुख डॉ रमन आर गंगाखेडकर ने कहा कि देश में अब तक कोविड-19 की 3,19,400 जांच की गई है।


Popular posts
कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण-दैनिक सूचना, मेडिकल हेल्थ बुलेटिन
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई बदलाव नहीं, अभी भी वेंटिलेटर पर
Image
PM मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है: राजनाथ सिंह
Image
चम्बल में घड़ियालों के अलावा डॉल्फिन, ऊदबिलाव, कछुए, मछली एवं अन्य जलीय जंतु पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र
Image
परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के तहत चयनित सतपुली में पर्यटन विभाग की 40 शैय्या वाले आवास गृह एवं विवाह समारोह मल्टीपरक हाल के निर्माण कार्य का विधिवत् भूमि पूजन कर शिलान्यास किया
Image