अगर पहाड़ों में पहुंचा संक्रमण तो संभालना मुश्किल होगा : त्रिवेन्द्र


देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मंगलवार को एक बार फिर प्रदेशवासियों से अनुरोध किया कि वे सामाजिक मेलजोल से दूरी बनाए रखने का सख्ती से पालन करें क्योंकि यदि कोरोना वायरस संक्रमण राज्य के पहाड़ी क्षेत्रों में फैल गया तो उसे संभालना मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि पहाड़ी क्षेत्रों की भौगोलिक संरचना और वहां की स्वास्थ्य व्यवस्था इस चुनौती का सामना करने के लिए तैयार नहीं है। सोमवार रात फेसबुक लाइव में मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘राज्य के बाहर काम कर रहे हजारों लोग अपने गांवों में लौट आये हैं। मुझे बताया गया है कि वे वॉलीबॉल, फुटबॉल, क्रिकेट और कार्ड खेलकर अपना समय गुजार रहे हैं। यह ऐसी गतिविधियों का समय नहीं है। सुरक्षित रहने के लिये उन्हें सामाजिक मेलजोल से दूरी बनाये रखनी होगी।’’ 


मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्य प्रदेशों से अपने गांव आए लोगों से अनुरोध है कि वह अन्य लोगों से दूरी बनाए रखें, अपने बच्चों से भी कुछ दिनों के लिए दूर रहें, खुद को भी बचाएं और अपने परिवार तथा गांव को भी सुरक्षित रखें। उन्होंने कहा कि जाने अनजाने में भी कोई गलती नहीं करनी है। उन्होंने कहा कि सबके सहयोग से ही हम कोरोना वायरस को हरा सकते हैं कि कोरोना हारेगा, उत्तराखंड जीतेगा? उन्होंने कहा, ‘‘हम कोरोना वायरस से बचाव के अपने प्रयासों में कोई कमी ना रखें। इटली, स्पेन और फ्रांस में क्या हुआ, देखिए, कोरोना वायरस अनजाने में हुई भूल को भी नहीं माफ करता।’’ 


रावत ने लॉकडाउन के दौरान संयम दिखाने के लिये जनता का आभार जताया और उम्मीद जाहिर की कि आने वाले दिनों में जनता जरूरत पड़ने पर इससे भी कड़े नियमों का पूरे संयम से पालन करेगी। इस बीच, प्रदेश के कैबिनेट मंत्री और राज्य सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक कहा कि अपने गांव लौटे लोगों का एहतियात के तौर पर स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा। पिछले कुछ दिनों में देश के विभिन्न हिस्सों से अपने घरों की ओर लौटने के दौरान रास्ते में फंसे लोगों के बारे में कौशिक ने कहा कि 14 दिन तक पृथक केन्द्रों में रखने के बाद ही उन्हें गांव भेजा जाएगा।


Popular posts
उत्तराखण्ड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के दिशा-निर्देशों के क्रम में
Image
परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के तहत चयनित सतपुली में पर्यटन विभाग की 40 शैय्या वाले आवास गृह एवं विवाह समारोह मल्टीपरक हाल के निर्माण कार्य का विधिवत् भूमि पूजन कर शिलान्यास किया
Image
दिल्ली हिंसा में अबतक 1300 लोग गिरफ्तार, कड़ी सुरक्षा के बीच छात्रों ने दी बोर्ड परीक्षा
Image
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई बदलाव नहीं, अभी भी वेंटिलेटर पर
Image
PM मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है: राजनाथ सिंह
Image