न तो ब्रिटिश और न ही मुगल ही भारत की लोकतांत्रिक विशेषता को कमतर कर सके: ओम बिरला


नयी दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने रविवार को कहा कि प्राचीन काल से ही भारत की लोकतांत्रिक जड़े मजबूत हैं और न तो ब्रिटिश और न ही मुगल शासक समाज के गणतंत्रवादी और लोकतांत्रिक विशेषता को कमतर कर पाए।


लोकसभा सचिवालय द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक ग्रेटर नोएडा स्थित गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बिरला ने कहा कि भारत की संस्कृति, सभ्यता और आध्यात्मिक ज्ञान बहुत पुराना है। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया से लोग इस देवभूमि में मानवीय मूल्य और भाईचारा सीखने आते थे। लोकसभा अध्यक्ष ने स्वस्थ लोकतंत्र के लिए मीडिया के कामकाज में स्वतंत्रता और जवाबदेही को रेखांकित किया।


Popular posts
उत्तराखण्ड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के दिशा-निर्देशों के क्रम में
Image
परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के तहत चयनित सतपुली में पर्यटन विभाग की 40 शैय्या वाले आवास गृह एवं विवाह समारोह मल्टीपरक हाल के निर्माण कार्य का विधिवत् भूमि पूजन कर शिलान्यास किया
Image
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई बदलाव नहीं, अभी भी वेंटिलेटर पर
Image
PM मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है: राजनाथ सिंह
Image
‘वन नेशन-वन राशन कार्ड’ योजना में शामिल हुएजम्मू-कश्मीर, मणिपुर, नागालैंड और उत्तराखंड: पासवान
Image