शाहीन बाग पर दिल्ली सरकार का आदेश बेअसर, कोरोना के बीच तख्त के साथ जारी रहेगा धरना


दिल्ली । शाहीन बाग जहां पर पिछले 94 दिनों से लोग धरने पर बैठे हैं। शाहीन बाग के लोगों के लिए मानवता से बड़ा धरना है। कोरोना से लड़ाई का रास्ता शाहीन बाग ने रोक दिया है। पूरी दुनिया कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है। महामारी का खतरा, डब्लूएचओ, तमाम मुल्क और मेडिकल एक्सपर्ट्स लगातार सार्वजनिक जगह से दूर रहने औऱ साफ-सफाई का ध्यान रखने की अपील कर रहे हैं।

कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली सरकार ने शादियों के अलावा 50 से ज्यादा लोगों की भीड़ जुटाने वाले सभी तरह के आयोजनों व धरना-प्रदर्शनों पर 31 मार्च तक पाबंदी लगा दी है। लेकिन शाहीन बाग में धरने पर बैठी महिलाओं ने दिल्ली सरकार के फैसले को दरकिनार करते हुए दो टूक कहा है कि उन्हें कोरोना वायरस से नहीं बल्कि सीएए, एनआरसी और एनपीआर से डर लगता है। खबरों के अनुसार शाहीन बाग में के तौर पर 2 मीटर की दूरी पर करीब 100 तख्त लगाया गया है।हर एक पर 2 महिलाएं बैठेंगी, 100 तख्त या चौकियां लगाई गई हैं।

वहीं दिल्ली सरकार के आदेश पर शाहीन बाग के धरना समर्थकों का कहना है कि जब दंगा हुआ तो केजरीवाल ने क्यों कोई ऑर्डर नहीं दिया। हमारे साथ जुड़े नहीं। यह आम आदमी नहीं मिनी बीजेपी है।


Popular posts
PM मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है: राजनाथ सिंह
Image
14 अगस्त 2020 को देशभर के कर्मचारी अधिकार दिवस मनाएंगे।
परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के तहत चयनित सतपुली में पर्यटन विभाग की 40 शैय्या वाले आवास गृह एवं विवाह समारोह मल्टीपरक हाल के निर्माण कार्य का विधिवत् भूमि पूजन कर शिलान्यास किया
Image
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई बदलाव नहीं, अभी भी वेंटिलेटर पर
Image
पर्यटन विभाग के अन्तर्गत चयनीत योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया
Image