शाहीन बाग के सभी मतदान केंद्र अति संवेदनशील की श्रेणी में


नई दिल्ली, । दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाप प्रदर्शन जारी है। ऐसे में चुनाव आयोग ने शाहीन बाग के लोगों को आठ फरवरी को मतदान करने के लिए जागरुक कर रहा है। चुनाव आयोग शाहीन बाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन को देखते हुए सभी पांच मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील की श्रेणी में रखा है।


शाहीन बाग के पास पांच मतदान केंद्रों पर 40 बूथ हैं। इन सभी को अति संवेदनशील घोषित किया गया है। इसलिए इन केंद्रों पर अतिरिक्त अर्धसैनिक बल तैनात रहेगी।


सर्विलांस रूप से संवेदनशील बुथों पर रखी जाएगी नजर


सभी अति संवेदनशील बूथों पर वेबकास्ट की व्यवस्था होगी। इसके मद्देनजर सीईओ कार्यालय में सर्विलांस रूम बनाया गया है। इस सर्विलांस रूम से मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के अधिकारी शाहीन बाग के मतदान केंद्रों सहित सभी अति संवेदनशील बूथों पर लगतार नजर बनाए रखेंगे।


शाहीन बाग में चुनाव अधिकारियों के लिए रास्ते की दिक्कत नहीं


सीईओ डॉ. रणबीर सिंह ने कहा कि उन्होंने शाहीन बाग इलाके का निरीक्षण किया था। चुनावी ड्यूटी में लगे अधिकारियों व मतदाताओं के मतदान केंद्रों पर पहुंचने के लिए रास्त की कोई समस्या नहीं है। दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त प्रवीर रंजन ने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान पूरी दिल्ली में प्रतिदिन 400-500 कार्यक्रम हुए। बड़ी-बड़ी रैलियां व जनसभाएं हुईं। शाहीन बाग की दो घंटनाओं को छोड़कर कहीं कोई घटना नहीं हुई। पुलिस रात के वक्त भी मुस्तैदी से गस्त कर रही है। उन्होंने कहा कि मतदान भी शांतिपूर्ण होगा।  


सुबह चार बजे से चलेगी मेट्रो


वैसे तो मतदान केंद्रों पर चुनावी ड्रयूटी में लगे अधिकारी एक दिन पहले पहुंच जाएंगे। विशेष परिस्थिति में महिला अधिकारियों को इससे राहत देने की व्यवस्था भी है। इसके मद्देनजर सीईओ कार्यालय ने सुबह चार बजे मेट्रो व डीटीसी बसों का परिचालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।


अर्धसैनिक बलों की 190 कंपनियां तैनात


दिल्ली में मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के लिए 42 हजार दिल्ली पुलिस के जवान व 19 हजार होम गार्ड तैनात होंगे। इस बार अर्धसैनिक बलों की 190 कंपनियां बुलाई गई हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में 47 कंपनियां तैनात की गई थीं। इस तरह इस बार अधैसैनिक बलों की 143 कंपनियां अतिरिक्त बुलाई गई हैं। अर्धसैनिक बलों की इन कंपनियों को फिलहाल  शाहीन बाग सहित संवेदशील इलाकों में पेट्रोलिंग के लिए तैनात किया गया है। कुल मिलाकर चुनाव में करीब ढ़ाई लाख कर्मचारी तैनात रहेंगे। संवेदनशीन बूथों पर अर्धसैनिक बल के  जवान तैनात किए जाएंगे।


Popular posts
उत्तराखण्ड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के दिशा-निर्देशों के क्रम में
Image
परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के तहत चयनित सतपुली में पर्यटन विभाग की 40 शैय्या वाले आवास गृह एवं विवाह समारोह मल्टीपरक हाल के निर्माण कार्य का विधिवत् भूमि पूजन कर शिलान्यास किया
Image
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई बदलाव नहीं, अभी भी वेंटिलेटर पर
Image
PM मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है: राजनाथ सिंह
Image
‘वन नेशन-वन राशन कार्ड’ योजना में शामिल हुएजम्मू-कश्मीर, मणिपुर, नागालैंड और उत्तराखंड: पासवान
Image