सांसद के फोन पर भी पुलिस ने नहीं की लोगों की मदद : नरेश गुजराल


दिल्ली । दिल्ली में बीते दिनों हिंसा ने कई लोगों को जान गंवाने पर मजबूर किया। दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या 39 तक पहुंच चुकी है। बीजेपी के सहयोगी शिरोमणि अकाली दल के सांसद नरेश गुजराल ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बनाया है। नरेश गुजराल ने गृहमंत्री अमित शाह और उपराज्यपाल अनिल बैजल को खत लिखा है। पूर्व प्रधानमंत्री इंद्रकुमार गुजराल के पुत्र नरेश गुजराल ने पत्र में दिल्ली पुलिस की उदासीनता पर सवाल उठाते हुए कहा कि पुलिस ने बुधवार की रात पूर्वोत्तर दिल्ली के मौजपुर इलाके में एक घर में फंसे 15 मुसलमानों की सहायता के लिए उनके अनुरोध पर कोई कार्रवाई नहीं की, जबकि एक भीड़ उन्हें नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रही थी।



 


उन्होंने कहा कि मैंने पुलिस को यह भी बताया कि मैं एक सांसद हूं फिर भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की गई और और उन 16 व्यक्तियों को दिल्ली पुलिस से कोई सहायता नहीं मिली। नरेश गुजराल का कहना है, 'मैं 1984 को फिर से होता हुआ नहीं देखना चाहता हूं। मुझे दिल्लीवाला होने पर गर्व है। पिछली बार ये सिख थे और इस बार ये मुसलमान हैं। दुर्भाग्य से हर बार अल्पसंख्यक समुदाय ही हमले की चपेट में है।


 


Popular posts
PM मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है: राजनाथ सिंह
Image
14 अगस्त 2020 को देशभर के कर्मचारी अधिकार दिवस मनाएंगे।
परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के तहत चयनित सतपुली में पर्यटन विभाग की 40 शैय्या वाले आवास गृह एवं विवाह समारोह मल्टीपरक हाल के निर्माण कार्य का विधिवत् भूमि पूजन कर शिलान्यास किया
Image
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई बदलाव नहीं, अभी भी वेंटिलेटर पर
Image
पर्यटन विभाग के अन्तर्गत चयनीत योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया
Image