अगर भारत में स्कॉटलैंड देखना है तो चले आइये कुर्ग


कहते हैं कि अगर घूमने के लिहाज से देखा जाए तो भारत इतना खूबसूरत है कि विदेश की खूबसूरती आप भूल जाएंगे। हर तरह की खूबसूरती आप भारत में देख सकते हो। यहां के हर राज्य की अपनी खास पहचान है और अलग खूबसूरती। लेकिन आज हम इस लेख में बात करेंगे दक्षिण भारत के कर्नाटक राज्य की एक बेहद ही प्यारी जगह कुर्ग की। 


 


कुर्ग की खूबसूरती को शब्दों में बयां कर पाना थोड़ा मुश्किल है। लेकिन कोशिश की जा सकती है। ‘कटे हुए पहाड़ियों से निकले लाल बदरपुर के रास्ते… सरसराती हवाएं… चारों तरह प्रकृति का निखरा हुआ स्वरूप.. पेड़ों को चीर कर पहाड़ों के रास्ते आपको अपने आगोश में लेने आते हुए सफेद बादल… इन बादलों को चाह कर भी आप अपनी ओर आने से नहीं रोक पाएंगे… बरसाती मौसम की पानी की बूंदें कब आपको भिगा जाएं इसकी आपको खबर भी नहीं होगी।' कुर्ग को प्रकृति का वरदान प्राप्त है। इस खूबसूरती को निहारते-निहारते आप की आंखें भी नहीं थकने वालीं क्योंकि आप यहां का एक भी नजारा अपनी आंखों से ओझल नहीं होने देंगे। ये तो थी कुर्ग की प्राकृतिक सुंदरता की बाद… अब हम आपको बताते हैं कि अगर आप यहां घूमने आ रहे हैं तो यहां पर क्या-क्या कर सकते हैं और कहां-कहां घूम सकते हैं।

 

कर्नाटक जिले में स्थित कुर्ग को यहां की आम भाषा में कोडगु कहते हैं। कुर्ग पूरे देश के मशहूर टूरिस्ट डेस्टिनेशन में से एक बेहतरीन जगह है जहां पर पर्यटक खूब आना पसंद करते हैं। पहाड़ियों के बीच बसा यह खूबसूरत हरा-भरा जिला आउटडोर एक्टिविटीज के लिए बेहतरीन है। यहां पर आप ट्रैकिंग, फिशिंग और वाइट वॉटर राफ्टिंग का मजा ले सकते हैं। यहां कर्नाटक की सबसे कम जनसंख्या है, इस वजह से आपको शहरी शोर-शराबे और भागदौड़ से अलग शांत माहौल मिलेगा, जो सुकून भरा अनुभव होगा। 

 

कुर्ग में घूमने के लिए कई प्रसिद्ध जगह हैं जहां आप घूमने के लिए जा सकते हैं जैसे भगमंदला, तालकावेरी, निसर्ग धाम, दुबेरे, अब्बे वॉटर फॉल, इरुप्पू वॉटर फॉल और नागरहोल नेशनल पार्क शामिल हैं। पुष्पगिरि और ब्रह्मगिरी ट्रैकिंग के लिए फेमस हैं। इस जगह की प्राकृतिक खूबसूरती के कारण इसे भारत का स्कॉटलैंड भी कहा जाता है। हॉलिडे के लिए बेहतरीन इस जगह पर हवाई जहाज, ट्रेन और गाड़ी से अलग-अलग तरह से पहुंचा जा सकता है। अगर आप कुर्ग आने का प्लान कर रहे है तो आप यहां अक्टूबर से लेकर मई तक कभी भी आ सकते हैं।

 

chardhamtravels45@gmail.com, Mob. 8527450818

Popular posts
कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण-दैनिक सूचना, मेडिकल हेल्थ बुलेटिन
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में कोई बदलाव नहीं, अभी भी वेंटिलेटर पर
Image
PM मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है: राजनाथ सिंह
Image
चम्बल में घड़ियालों के अलावा डॉल्फिन, ऊदबिलाव, कछुए, मछली एवं अन्य जलीय जंतु पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र
Image
परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के तहत चयनित सतपुली में पर्यटन विभाग की 40 शैय्या वाले आवास गृह एवं विवाह समारोह मल्टीपरक हाल के निर्माण कार्य का विधिवत् भूमि पूजन कर शिलान्यास किया
Image